किताब का नाम 'प्रेग्नेंसी बाइबल' रखने पर भड़के ईसाई संगठन, करीना कपूर खान के खिलाफ शिकायत दर्ज

17 जुलाई, 2021 By: डू पॉलिटिक्स स्टाफ़
किताब के शीर्षक में ‘बाइबल’ लिखकर फँसीं करीना

चर्चित अभिनेत्री करीना कपूर खान (Kareena Kapoor Khan) द्वारा अपनी प्रेग्नेंसी को लेकर लिखी गई एक किताब पर कई ईसाई संगठन आहत हो गए हैं। उन्होंने किताब के शीर्षक को लेकर विवाद खड़ा किया तथा शिकायत भी दर्ज कराई है।

बॉलीवुड के अधिकतर लोग ईसाई एवं इस्लामी समूहों का विभिन्न मामलों में समर्थन करते नज़र आते हैं। हिंदू-विरोधी सामग्री को खुलेआम प्रचारित-प्रसारित करने वाला बॉलीवुड इन अब्राह्मिक पंथों के विरुद्ध बोलने या कुछ बनाने से पहले दस बार सोचता है। इसका कारण है इस्लामी और ईसाई समूहों द्वारा बॉलीवुड को समय-समय पर उसका स्थान बताते रहना।

करीना कपूर खान के विरुद्ध शिकायत

कुछ समय पूर्व ही पटौदी खानदान की बहू करीना कपूर खान ने अपने दूसरे बच्चे को जन्म दिया। करीना ने अपनी गर्भावस्था के अनुभव और इस पर अपने विचार प्रस्तुत करते हुए एक किताब लिखी है।

इस किताब का नाम उन्होंने “करीना कपूर खान प्रेग्नेंसी ‘बाइबल’ अल्टीमेट मैनुअल ऑफ मॉम्स टू बी” (KAREENA KAPOOR KHAN’S PREGNANCY BIBLE: The ultimate manual for moms-to-be) रखा। यह किताब जगरनॉट बुक्स पब्लिशर द्वारा छापी गई है।

करीना द्वारा किताब के शीर्षक में ‘बाइबल’ शब्द प्रयोग करने को लेकर कई ईसाई संगठन विवाद कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि इस शीर्षक से उनकी सांप्रदायिक भावनाएँ आहत हुई हैं।

अल्फा ओमेगा क्रिस्चियन महासंघ के प्रमुख आशीष शिंदे ने बीड शहर के शिवाजी नगर पुलिस थाने में इसके विरुद्ध आईपीसी की धारा 295A के तहत शिकायत दर्ज कराई। शिकायत में उन्होंने कहा कि किताब का शीर्षक प्रेगनेंसी ‘बाइबल’ होने के कारण ईसाइयों की सांप्रदायिक भावनाएँ आहत हुई हैं।

शिवाजी नगर थाने के प्रमुख इंस्पेक्टर साईंनाथ थोंबरे ने कहा:

“हमने मामले में शिकायत स्वीकार कर ली है, परंतु अभी कोई एफआईआर दर्ज नहीं की गई है क्योंकि घटना यहाँ (बीड) की नहीं है। हमने उन्हें मुंबई में शिकायत लिखवाने की सलाह दी है।”

दुनियाभर में ‘बाइबल’ शब्द का प्रयोग कई किताबों एवं सूचनाओं के संग्रहों के लिए किया जाता है। अधिकतर लोगों द्वारा इसे एक सांप्रदायिक शब्द न मानकर एक साधारण शब्द की भाँति ही प्रयोग किया जाता है। 

बता दें कि करीना कपूर खान 2 बच्चों को जन्म दे चुकी हैं तथा कुछ समय पहले उन्होंने अपने तीसरे बच्चे के साथ गर्भवती होने की सूचना साझा की थी। इस किताब के माध्यम से वे अपना गर्भावस्था का अनुभव बता रही हैं। इस किताब में वे अपने शारीरिक, मानसिक और भावुक अनुभव साझा करना चाहती हैं।





सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं:

ताज़ा समाचार