बंगाल: मतदान केंद्र पर फायरिंग में 5 की मौत, PM मोदी ने EC से की आरोपितों पर सख्त कार्रवाई की माँग

10 अप्रैल, 2021
CISF की फायरिंग में 05 लोगों की मौत (चित्र साभार: बिजनेस टुडे)

पश्चिम बंगाल के कूच बिहार जिले में चौथे चरण के मतदान में हुई हिंसा में पाँच लोगों की गोली लगने से मृत्यु हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जो उसी दौरान सिलीगुड़ी में एक रैली को संबोधित कर रहे थे, ने कहा कि वह इस घटना से बहुत आहत हैं।

शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “मैं चुनाव आयोग से आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आग्रह करूँगा।”

एक व्यक्ति की मौत उपद्रवियों की गोली से उस समय हुई, जब वह अपना वोट डालने के लिए एक कतार में खड़ा था, जबकि चार अन्य लोग केंद्रीय बलों द्वारा की गई जवाबी कार्रवाई में मारे गए। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मतदान केंद्र के बाहर बम फेंके जाने के कारण कई लोग घायल हो गए। केंद्रीय बलों को स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा।

बताया जा रहा है कि स्थानीय लोगों द्वारा हमला किए जाने के बाद सीआईएसएफ ने ये कार्रवाई की और लोगों ने जवानों की राइफलें छीनने की भी कोशिश की। यह घटना सीतलकूची में मतदान के दौरान की है।

रिपोर्ट के अनुसार, पहली घटना सीतलकूची में पठानतुली इलाके के पास हुई। मारे गए आनंद बर्मन पहली बार मतदान करने के लिए मतदान केंद्र के बाहर कतार में खड़े थे। इसके बाद इलाके में टीएमसी और भाजपा कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए।

इसके बाद, दिन में लगभग 11:30 बजे, सीतलकूची के जोरापाटकी क्षेत्र में तृणमूल और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़पें हुईं। खबर मिलने पर सीएपीएफ की रैपिड एक्शन फ़ोर्स मौके पर पहुँची। बताया जा रहा है कि कथित तौर पर 200 से अधिक लोग एक मतदान केंद्र में जबरन घुसने की कोशिश कर रहे थे।

चुनाव आयोग की एक रिपोर्ट के अनुसार, उपद्रवियों ने सीएपीएफ कर्मियों से हथियार छीनने की कोशिश की और उन पर हमला किया। केंद्रीय बलों ने आत्मरक्षा में जवाबी गोलीबारी की और इस प्रक्रिया में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि चार अन्य को चोटें आई हैं।

इस बीच, तृणमूल कॉन्ग्रेस ने इसके लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराते हुए दावा किया है कि शनिवार को जिन पाँच लोगों की मृत्यु हुई, वे उनकी पार्टी के समर्थक थे। तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने ट्विटर पर इस घटना के पार्टी अपना आक्रोश प्रकट किया है। उन्होंने लिखा है कि जब आप हमें निष्पक्ष रूप से हरा नहीं सकते हैं, तो आप गोली मारते हैं और मारते हैं।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं: