जब रेप होना ही है तो लेटो और मजे लो: कॉन्ग्रेसी MLA रमेश कुमार का विधानसभा में विवादित बयान

17 दिसम्बर, 2021 By: DoPolitics स्टाफ़
कॉन्ग्रेसी विधायक केआर रमेश कुमार बलात्कार पर दिए हुए अपने बयान को ले कर विवादों में हैं

कर्नाटक विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष और कॉन्ग्रेस के एक वरिष्ठ नेता केआर रमेश कुमार ने कर्नाटक विधानसभा में बलात्कार के विषय में एक निंदनीय बात कही। कॉन्ग्रेसी विधायक रमेश कुमार ने कहा कि जब बलात्कार होना ही है तो लेटे रहो और आनंद लो। कॉन्ग्रेस नेता ने बाद में अपने इस भद्दे बयान पर खेद जताते हुए ट्वीट करके माफ़ी माँगी है। 

विधानसभा में दुष्कर्म को लेकर कॉन्ग्रेस के नेता केआर रमेश कुमार ने एक बेहद भद्दी टिप्पणी की है। इस व्यक्ति ने विधानसभा में कहा: 

“एक कहावत है कि जब बलात्कार होना ही हो, तो लेट जाओ और इसका आनंद लो।” 

उन्होंने आगे कहा कि विधानसभा अध्यक्ष बिल्कुल उसी स्थिति में थे। इस बयान के बाद विधानसभा में उपस्थित अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी ने इसे हँस कर टाल दिया और कार्रवाई की भी कोई बात नहीं की।


इस बयान पर जनता की भारी आलोचना के बाद कॉन्ग्रेसी नेता ने 16 दिसंबर, 2021 की रात में ट्वीट करते हुए अपने इस बयान पर माफ़ी माँगी, उन्होंने लिखा: 

“विधानसभा में ‘बलात्कार’ के विषय में की गई लापरवाही पूर्ण टिप्पणी के लिए सभी से खेद व्यक्त करना चाहता हूँ। मेरा इरादा इस जघन्य अपराध को कम आँकने वाला या गलत नहीं था, परन्तु यह एक ‘ऑफ द कफ’ टिप्पणी थी। मैं अब से अपने शब्दों को सावधानी बरतते हुए चुनूँगा।” 

अगले दिन 17 दिसंबर, 2021 को जब मीडियाकर्मियों ने इस मामले में कॉन्ग्रेसी नेता से कैमरा के सामने माफ़ी माँगने का आग्रह किया तो वे बिना कुछ प्रतिक्रिया देते हुए सीधे निकल गए।


अगले दिन विधान सभा सत्र प्रारम्भ होने पर भी जब कॉन्ग्रेसी सांसद से माफ़ी की माँग होने लगी तो विधानसभा अध्यक्ष कागेरी ने कहा कि उन्होंने पहले ही माफ़ी माँग ली है, अब मामले को अधिक खींचा न जाए। इसके बाद भी सोशल मीडिया पर लोगों में इस बात को लेकर ख़ासा गुस्सा है।


विधानसभा अध्यक्ष पर की टिप्पणी 

बता दें कॉन्ग्रेस के केआर रमेश का यह बयान उस समय आया जब विधानसभा में किसानों के विषय में बहस के लिए अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी पर विधायकों ने दबाव बनाना प्रारम्भ किया। 

इस पर कागेरी ने कहा था कि उनकी समस्या केवल यह है कि सदन का कामकाज सुचारू रूप से नहीं हो चल रहा है। इसी टिप्पणी पर कॉन्ग्रेसी विधायक ने कहा कि एक कहावत है:

“जब बलात्कार होना ही है, तो लेटे रहो और मजे लो। आप एकदम उसी स्थिति में हैं।” 

बता दें कि यह कोई पहला अवसर नहीं है जब इस कॉन्ग्रेसी विधायक केआर रमेश कुमार द्वारा इस प्रकार की अश्लील टिप्पणी की गई है। पहले भी एक बार इन्होंने अपनी तुलना एक दुष्कर्म पीड़िता से कर दी थी। इस कृत्य के लिए उनकी अपनी पार्टी की ही महिला सदस्यों और अन्य विधायकों ने इसका विरोध किया था और उनके इस कथन की कड़ी निंदा भी की थी।

अपने बयान में रमेश कुमार ने कहा था कि वे एक दुष्कर्म पीड़िता की तरह महसूस करते हैं उन्होंने कहा कि 

“जैसे दुष्कर्म सिर्फ एक बार होता है परंतु जब आप शिकायत करते हैं कि दुष्कर्म हुआ है तो आरोपित को जेल में डाल दिया जाता है, लेकिन वकील पूछते हैं कि यह कब हुआ? कैसे हुआ? जिसके कारण न्यायालय में 100 बार दुष्कर्म होता है। मेरी भी ऐसी ही हालत है।”



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं: