विदेशी महिला ने मंगलसूत्र को बताया सशक्तिकरण की पहचान, वामपंथनों ने कहा- 'कुत्ते का पट्टा'

17 दिसम्बर, 2021 By: DoPolitics स्टाफ़
पोलैंड मूल की महिला की भारतीय वामपंथियों ने की ट्रोलिंग

भारतीय वामपंथियों और कथित नारीवादियों ने हिन्दू घृणा का एक बड़ा उदाहरण पेश किया है। इस बार इस गिरोह के लोगों ने एक पोलैंड मूल की महिला को अपना निशाना बनाया। यह पॉलिश महिला एक हिन्दू व्यक्ति की पत्नी है, और इसी कारण उसने मंगलसूत्र पहने एक तस्वीर साझा की। इस तस्वीर पर भारतीय वामपंथियों और स्वयं को नारीवादी कहने वाले कई लोगों ने ज़हरीले कॉमेंट्स लिखने प्रारम्भ कर दिया। 

वामपंथियों की हिन्दू धर्म से घृणा किसी से छिपी नहीं है, विभिन्न अवसरों पर कभी ब्राह्मणों तो कभी पूरे हिन्दू धर्म के प्रति ही इनकी घृणा के उदाहरण दिखते रहते हैं। ऐसा ही एक उदाहरण इस बार इन लोगों ने इस महिला को ऑनलाइन निशाना बनाकर पेश किया है।


सिल्विया नामक इस पॉलिश महिला ने इंस्टाग्राम पर अपनी मंगलसूत्र पहने एक तस्वीर साझा की। इस तस्वीर के साथ इस महिला ने ‘मंगलसूत्र इज़ एम्पावरिंग’ यानी, ‘मंगलसूत्र सशक्तिकरण की पहचान है’ लिखा।

इतना होने की देर थी कि कई पुरुषों और महिलाओं तक ने इस पॉलिश महिला की तस्वीर पर अभद्र टिप्पणियाँ करनी प्रारंभ कर दीं। इन वामपंथी विचारधारा वाले लोगों ने मंगलसूत्र को एक ‘कुत्ते का पट्टा’ जैसी कई बातें लिखीं। 





एक महिला ने तस्वीर पर लिखा- ‘तस्वीर को देख कर लग रहा है कि तुम्हें पुरुषों से मान्यता प्राप्त करने की चाह है।’

एक अनुरागो नामक यूज़रनेम वाले व्यक्ति ने कहा कि यह एक ‘कुत्ते के पट्टे’ जैसा लग रहा है। इसी तरह कई अन्य लोगों ने लिखा कि किसी पुरुष का ग़ुलाम बनना गौरव करने लायक नहीं होता है।


एक अन्य व्यक्ति ने कहा कि एक गोरी महिला ब्राह्मण पितृसत्ता का प्रचार कर रही है। एक महिला ने इस पॉलिश महिला की तस्वीर साझा करते हुए उस पर उल्टी करने का रिएक्शन दिया।

महिला ने बनाया नारीवादियों की ट्रोलिंग पर वीडियो 

इस पूरी ‘ऑनलाइन बुलिंग’ को लेकर पॉलिश महिला ने एक वीडियो बनाया, जिसमें उन्होंने बताया कि किस तरह मंगलसूत्र पहनने का यह उनका स्वयं का निर्णय था और इस पर कई लोगों ने उन्हें ऑनलाइन ट्रोल किया। इस महिला ने बताया:

“मेरी सास ने मुझे मंगलसूत्र के विषय में बताया था और उन्होंने कहा था कि अगर तुम्हारा मन हो तो इसे पहनो अन्यथा मत पहनो। इसे पहनना मेरा अपना निर्णय था। यह मैंने अपने लिए पहना था न कि दुनिया को यह बताने के लिए कि मैं शादीशुदा हूँ। यह केवल मेरे और मेरे पति के बीच के प्रेम का एक प्रतीक है।”


उनके पति इसके बदले में उनके लिए क्या करते हैं जैसे सवाल पर सिल्विया ने कहा कि वे उनके लिए हाथ में अँगूठी पहनते हैं, यह पॉलिश संस्कृति की एक पहचान है।

इस वीडियो के अंत में उन्होंने इन सभी ट्रोलर लोगों से यह अनुरोध किया कि इतनी नकारात्मकता फैलाने की बजाय ये लोग थोड़े सकारात्मक हों और अगर उनके पास कुछ अच्छा कहने के लिए नहीं है तो कृपया चुप रहें।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं: