कोर्ट से बाहर निकलते ही मुझे मार देंगे: जज के सामने गिड़गिड़ाया गैंगस्टर मुख्तार अंसारी

28 अगस्त, 2021
डॉन मुख्तार अंसारी को सता रहा है मरने का डर

उत्तर प्रदेश राज्य पर एक समय में एकछत्र माफिया राज चलाने वाले गैंगस्टर मुख़्तार अंसारी इन दिनों भीगी बिल्ली बना हुआ है। अंसारी ने न्यायालय के सामने गुहार लगाई है कि उसकी न्यायालय में सीधी पेशी न कराई जाए अन्यथा उसकी रास्ते में ही हत्या करा दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश और बिहार की राजनीति में बाहुबलियों की दशकों से एक अहम भूमिका रही है। ये लोग गुंडाराज चला कर अपना वर्चस्व जमाते हैं एवं किसी भी पार्टी के टिकट पर लड़ कर चुनाव जीत जाते हैं। इसके उपरांत राजनीतिक एवं प्रशासनिक समर्थन के साथ अवैध गतिविधियों को अंजाम देते हैं।

योगी सरकार के आने के बाद से उत्तर प्रदेश में माफिया राज और गुंडागर्दी पर लगाम कसी देखी जा सकती है। कई ऐसे माफियाओं की अवैध संपत्तियों पर प्रशासन द्वारा बुल्डोज़र चलाए गए हैं वहीं कई भयभीत होकर जेलों में कैद हैं। 

जज का सवाल सुन काँपा अंसारी 

ऐसे ही एक मामले में फर्ज़ी एंबुलेंस केस में उत्तर प्रदेश का बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी बाँदा जेल में कैद है। शुक्रवार (27 अगस्त, 2021) को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से न्यायालय द्वारा एक विशेष सत्र में उसे प्रस्तुत किया गया।

इसमें जज कमलकांत श्रीवास्तव ने सवाल किया कि क्या अब अंसारी की न्यायालय में सीधी पेशी कराई जाए? इतना सुनकर कुख्यात अंसारी घबरा गया और उसने उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधना प्रारंभ कर दिया।


अंसारी ने कहा कि अगर उसे जेल से बाहर निकलवा कर कोर्ट में पेश करने के लिए ले जाया गया तो सरकार उसे मरवा देगी। अंसारी ने यह भी दावा किया है कि उस पर चल रहे मुकदमे राजनीतिक प्रतिशोध के आधार पर लगाए गए हैं एवं उसने कोई अपराध नहीं किया है। सभी तर्क सुनने के बाद न्यायालय ने सुनवाई 9 सितंबर, 2021 तक के लिए आगे बढ़ा दी है। 

बता दें कि मुख़्तार अंसारी को इसी वर्ष अप्रैल माह में पंजाब से उत्तर प्रदेश लाया गया था। उस समय भी अंसारी और उसके परिवार ने ऐसे दावे किए थे कि उसे रास्ते में ही पुलिस द्वारा एनकाउंटर करके मार दिया जाएगा।

अवैध संपत्ति ध्वस्त

जेल के अंदर बैठे अंसारी के साथ-साथ उत्तर प्रदेश शासन बाहर उसके द्वारा अवैध रूप से बनाई गई संपत्ति पर भी शिकंजा कस रहा है। अंसारी का गाजीपुर के फतेहुल्लाहपुर गाँव में एक गोदाम है। यहाँ अंसारी ने एक तालाब पर अवैध कब्ज़ा करके उस पर सड़क बनवाई थी। उत्तर प्रदेश प्रशासन द्वारा इस अवैध सड़क को ध्वस्त कर दिया गया है।

रिपोर्ट्स की मानें तो अब तक उत्तर प्रदेश में मुख्तार अंसारी गिरोह की लगभग दो अरब रुपयों की अवैध संपत्ति या तो प्रशासन द्वारा ज़ब्त कर ली गई है या उसे ध्वस्त कर दिया गया है।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं: