मुनव्वर राणा की बेटी उरूसा ने लगाया कॉन्ग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पर दुर्व्यवहार का आरोप

17 जुलाई, 2021 By: डू पॉलिटिक्स स्टाफ़
मुनव्वर राणा की पुत्री का कॉन्ग्रेस के अजय लल्लू पर आरोप

उर्दू के मशहूर शायर मुनव्वर राणा (Munawwar Rana) का परिवार एक बार पुनः सुर्खियाँ बटोर रहा है। इस बार उनकी बेटी उरूसा राणा (Uroosa Rana) ने कॉन्ग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है। 

बहुचर्चित शायर एवं कथित लेखक मुनव्वर राणा समय-समय पर सुर्खियाँ बटोरते ही रहते हैं। विडंबना यह है कि वे कभी किसी सकारात्मक बात को लेकर समाचारों में नहीं आते। कभी बेबुनियाद आरोप तो कभी परिवार के आपसी झगड़े ही उनकी व उनके परिवार की चर्चा का विषय बनते हैं। 

उरूसा का कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पर आरोप

मुनव्वर राणा की बेटी उरूसा राणा उत्तर प्रदेश महिला कॉन्ग्रेस की की उपाध्यक्ष हैं। उरूसा ने अपनी ही पार्टी कॉन्ग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा के लखनऊ में 16 जुलाई, 2021 को हुए धरने में कॉन्ग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू द्वारा उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया।


राणा की पुत्री का कहना है कि जब वह गाँधी की प्रतिमा के सामने धरने के प्रदर्शन से पूर्व प्रियंका गाँधी का अभिवादन करने उनके समीप जाने लगीं तो अजय ने उनका अपमान किया और वहाँ से चले जाने को कहा।

उरूसा ने वार्ता में यह भी कहा कि सीएए कानून के विरोध प्रदर्शन के समय अजय लल्लू उनसे सहयोग माँगने आए थे, और आज अजय का उनके प्रति व्यवहार देखकर वे बहुत आहत हुई हैं।

बता दें कि मुनव्वर राणा का पूरा परिवार ही अक्सर सुर्खियों में रहता है। कुछ दिनों पहले मुनव्वर के पुत्र तबरेज़ ने अपने चचेरे भाइयों को फँसाने के लिए स्वयं पर हमला करवा लिया था, जिसमें वे पकड़े भी गए थे।

इससे कुछ समय पूर्व मुनव्वर स्वयं भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए देखे गए थे। राणा ने उत्तर प्रदेश में पकड़े गए अवैध पंथ परिवर्तन कराने वाले गिरोह को झूठा बताते हुए, इसे भाजपा की चाल बताया था।

अजय लल्लू ने आरोपों से पल्ला झाड़ा

पूरे मामले पर दोषी ठहराए जा रहे अजय लल्लू ने उरूसा द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को गलत और बेबुनियाद बताया है। उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ था, उरूसा कॉन्ग्रेस पार्टी की एक सम्मानित सदस्य हैं और किसी के द्वारा उनका अपमान किए जाने का सवाल ही पैदा नहीं होता। कॉन्ग्रेस नेता ने कहा कि उन्होंने खुद उरूसा को प्रियंका गाँधी से मिलवाया था।

लगाए गए आरोपों पर और व्याख्या देते हुए अजय ने बताया कि उरूसा स्वयं को जहाँ से हटाए जाने की बात कह रही हैं असल में वहाँ पार्टी महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा के सिवा किसी और को बैठने की अनुमति नहीं थी।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं:

ताज़ा समाचार