राजपूताना राइफल्स में नीरज चोपड़ा, पुनिया का भव्य स्वागत, Lt Gen KJS Dhillon ने भेंट किए चेक

11 अगस्त, 2021 By: डू पॉलिटिक्स स्टाफ़
कर्नल लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों के साथ 'गोल्डन बॉय' नीरज चोपड़ा और रेसलर दीपक पुनिया

भारतीय सेना की राजपूताना राइफल्स यूनिट के दो ओलंपियन नीरज चोपड़ा और दीपक पूनिया को मंगलवार (10 अगस्त, 2021) के दिन नई दिल्ली में लेफ्टिनेंट कर्नल केजेएस ढिल्लों (Lt Gen KJS Dhillon) ने सम्मानित किया।

टोक्यो ओलिंपिक 2020 में पदक जीत कर देश का नाम रौशन करने वाले हर भारतीय एथलीट को देश पलकों पर बिठा रहा है। बड़ी बड़ी कंपनियाँ, राज्य सरकारें और सेना भी देश के लिए सर्वश्रेष्ठ झोंकने वाले इन खिलाड़ियों पर इनामों की बरसात कर रही है।

भाला फेंक (Javelin Throw) में गोल्ड मेडल जीतने वाले हरियाणा निवासी 4 राजपूताना राइफल्स के सूबेदार नीरज चोपड़ा, कुश्ती प्रतियोगिता के सेमी फाइनलिस्ट 19 राजपूताना राइफल्स के दीपक पुनिया को राजपूताना राइफल्स के कर्नल लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों द्वारा सम्मानित किया गया और क्रमशः 6 लाख और 4.55 लाख रुपए का चेक प्रदान किया गया।

भारत की तरफ से भाला फेंक (Javelin Throw) में हरियाणा के नीरज चोपड़ा ने अभी तक का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए गोल्ड मेडल जीता है। वह इस ओलंपिक भारत की ओर से गोल्ड जीतने वाले इकलौते खिलाड़ी हैं। जिसके चलते नीरज चोपड़ा पर पूरा देश गर्व महसूस कर रहा है। नायब सूबेदार अर्जुन लाल (रोइंग में 11वें) को भी पिछले सप्ताह सम्मानित किया गया था।

इससे पहले टोक्यो से वापस लौटे ओलंपिक पदक विजेताओं का सरकार द्वारा भव्य स्वागत किया गया। दिल्ली के फाइव स्टार होटल अशोका में आयोजित भव्य समारोह में खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के अलावा केंद्रीय कानून एवं न्याय मंत्री किरण रिजिजू भी मौजूद थे। सम्मान समारोह में खेल मंत्री ने उन्हें स्मृति चिह्न और शॉल भेंट की।

नीरज की कमीशंड अफसर पर पदोन्नति से सेना का इन्कार

स्वर्ण पदक जीतने की सूबेदार नीरज चोपड़ा की उपलब्धि पर सेना भी गदगद है इसलिए ऐसी चर्चा थी कि उन्हें पदोन्नत करते हुए सीधे कमीशंड अधिकारी बनाया जा सकता है। हालाँकि सेना ने स्पष्ट और दिया है कि अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल करने वाले खेल जगत के इस ‘हीरे’ को वह चाह कर भी कमीशंड अधिकारी के तौर पर पदोन्नत नहीं कर सकती।

दरअसल सेना में जेसीओ रैंक के अधिकारियों के लिए कमीशंड ऑफिसर बनने की एक तय प्रक्रिया है जिसके तहत परीक्षा और इंटरव्यू दोनों पास करना होता है। इस अनिवार्य प्रक्रिया को बाईपास करना सम्भव नहीं है। नीरज अभी सेना में जेसीओ रैंक पर ही हैं अतः उन्हें कमीशंड अफसर बनने के लिए परीक्षा और इंटरव्यू की इस प्रक्रिया से गुजरना होगा।

नीरज को फिलहाल सेना सिर्फ सूबेदार मेजर या मानद ऑनरेरी मेजर के तौर पर ही पदोन्नत कर सकती है। फिलहाल नीरज का सारा ध्यान अब पेरिस ओलंपिक पर है और ऐसे में उनके लिए सेना का कमीशन हासिल का वक्त नहीं है। उन्हें सूबेदार मेजर या मानद ऑनरेरी मेजर के दो विकल्पों में से एक को चुनना होगा

नामी कम्पनियाँ कर रहीं उपहार देने की घोषणा

टोक्यो ओलंपिक में अपने प्रदर्शन से देश का मान बढ़ाने वाले खिलाड़ियों पर बड़ी बड़ी कम्पनियाँ मेहरबान हैं। महिंद्रा, BYJU’S और Xiaomi जैसी कई बड़ी कम्पनियाँ मेडल हासिल करने वाले खिलाड़ियों को ईनाम दे रही हैं। Xiaomi ने मेडल जीतने करने वाले खिलाड़ियों को स्पेशल गिफ्ट देने का फैसला किया है।

Xiaomi ने इन खिलाड़ियों के प्रति सम्मान और खुशी जाहिर करते हुए घोषणा की कि वह मेडल जीतने वाले प्रत्येक भारतीय खिलाड़ी को Mi 11 Ultra स्मार्टफोन गिफ्ट करेगी। Xiaomi India के मैनेजिंग डायरेक्टर मनु कुमार जैन ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए ये घोषणा की।

उन्होंने अपने ट्विट में लिखा, “सपनों को पूरा करने और 1.3 बिलियन लोगों के आँखों में खुशी के आँसू लाने के लिए आप सभी का धन्यवाद. आपको चीनी कंपनी गिफ्ट के रूप में Mi 11 Ultra देंगी।”

Xiaomi साल1980 के बाद पहली बार हॉकी मे कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय पुरुष हॉकी टीम के सभी खिलाड़ियों को भी Mi 11X स्मार्ट फोन गिफ्ट करेगी। इसके अलावा खाड़ी देश के एक भारतीय व्यापारी नें भारतीय हॉकी टीम के गोलकीपर पीआर श्रीजेश को एक करोड़ रुपए देने का ऐलान किया है। बता दें कि साल 2012 में हुए लंदन ओलंपिक का रिकॉर्ड तोड़ते हुए भारत ने इस साल सात पदक अपने नाम किए हैं।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं:

ताज़ा समाचार