दिल्ली: फेक पासपोर्ट, AK-47, ग्रेनेड के साथ पकड़ा गया PAK आतंकी अशरफ

12 अक्टूबर, 2021 By: डू पॉलिटिक्स स्टाफ़
दिल्ली के लक्ष्मीनगर क्षेत्र से AK-47 के साथ आतंकी गिरफ्तार

मंगलवार सुबह एक पाकिस्तानी आतंकवादी को दिल्ली के लक्ष्मी नगर से गिरफ्तार किया गया है। उसके कब्जे से एक एके-47 राइफल, हथगोला बरामद किया गया है। मंगलवार (12 अक्टूबर, 2021) की सुबह मिली जानकारी के अनुसार, पकड़े गए इस आतंकी की पहचान मोहम्मद अशरफ के रूप में हुई है और वह पाकिस्तान के पंजाब का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि अशरफ नेपाल के रास्ते दिल्ली पहुँचा था।

रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने रमेश पार्क, लक्ष्मी नगर से पाकिस्तानी नागरिकता वाले एक आतंकवादी को गिरफ्तार किया। वह भारतीय नागरिक की फर्जी आईडी के साथ रह रहा था।

एके-47 और विस्फोटक बरामद

आतंकी की पहचान मोहम्मद अशरफ अली पुत्र उमरदीन, पाकिस्तान के पंजाब निवासी के रूप में हुई है। वह अली अहमद नूरी के नाम से भारतीय नागरिक के रूप में दिल्ली के शास्त्री नगर में रह रहा था। उसके कब्जे से एके-47 और हैंड ग्रेनेड बरामद किए गए हैं।


अशरफ के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (UAPA), विस्फोटक अधिनियम, शस्त्र अधिनियम और अन्य प्रासंगिक प्रावधान लागू किए जा रहे हैं। लक्ष्मी नगर के रमेश पार्क में उनके वर्तमान पते पर भी तलाशी अभियान चलाया गया है।

इस पाकिस्तानी संदिग्ध से दिल्ली स्थित कालिंदी कुंज के यमुना घाट से एक AK-47 के साथ-साथ 60 कारतूस, एक हैंड ग्रेनेड, 2 पिस्टल और उसके 50 कारतूस बरामद हुए हैं। वहीं, तुर्कमान गेट से अशरफ का एक नकली पासपोर्ट भी बरामद हुआ।

गौरतलब है कि तीन दिन पूर्व ही दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की और राष्ट्रीय राजधानी में त्योहारी सीजन के दौरान एक आतंकवादी हमले के इनपुट के मद्देनजर आतंकवाद विरोधी उपायों पर चर्चा की।

दिल्ली पुलिस के हाथ यह आतंकी त्योहारों के सीजन से ठीक पहले लगा है। राजधानी दिल्ली में 10 अक्तूबर को आतंकी हमले का इनपुट मिला था। हमले की सूचना मिलने के बाद से ही दिल्ली पुलिस हाईअलर्ट पर थी।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं:

ताज़ा समाचार