राघव चड्ढा की पिटाई का वीडियो वायरल, यूजर ने दिखाया अलग-अलग एंगल से कैसे पिटे चड्ढा

08 जनवरी, 2022 By: DoPolitics स्टाफ़
हाथ-पैर चलते ही 'राघव चड्ढा चोर है' के नारे लगे तो पीछे के दरवाजे से भागे चड्ढा

पंजाब के जालंधर से आम आदमी पार्टी विधायक राघव चड्ढा से संबंधित एक वीडियो सामने आया है। चड्ढा जालंधर में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करने गए थे, जहाँ उन्हें उनकी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं ने घेर लिया और वीडियो में देखा जा रहा है कि हंगामे के दौरान थप्पड़ और लात-घूँसे तक चले। मौके पर से राघव चड्ढा का भागते हुए भी एक फुटेज देखा जा सकता है। 

पंजाब चुनाव में राज्य समेत देशभर के राजनीतिक दल सत्ता पाने को आतुर बैन। ऐसे में अन्ना आंदोलन से जन्मी आम आदमी पार्टी भी पंजाब में किस्मत आज़माने को तैयार है। इसी सिलसिले में शुक्रवार (7 जनवरी, 2022) को दिल्ली से आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा जालंधर पहुँचे। उन्होंने वहाँ एक प्रेस वार्ता को संबोधित किया।

यहाँ मौजूद आम आदमी पार्टी के ही कई कार्यकर्ता पार्टी के टिकट बँटवारे से नाराज़ थे। उन्होंने पहले राघव चड्ढा को काले झंडे दिखाए और देखते ही देखते मामला गंभीर हो गया।

दरअसल आम आदमी पार्टी के पूर्व ज़िला प्रमुख शिव दयाल माली एक लंबे समय से पार्टी से जुड़े हुए हैं। साथ ही 2017 विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले डॉक्टर संजीव शर्मा भी इस बार टिकट की चाहत में थे। पार्टी ने इन दोनों का ही टिकट काटते हुए शीतल और रमन अरोड़ा को टिकट दे दिया।

माली और शर्मा के समर्थकों का आरोप है कि आम आदमी पार्टी चुनावों के लिए टिकट बेच रही है, साथ ही पार्टी पर अपराधियों को टिकट देने के आरोप भी लग रहे हैं।


सवालों से भागे आम आदमी पार्टी विधायक 

माली और शर्मा के समर्थक प्रेस क्लब पहुँच गए और उन्होंने इस विषय में आम आदमी पार्टी विधायक चड्ढा से सवाल-जवाब प्रारंभ कर दिए। वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि लोग चड्ढा से सवाल कर रहे हैं और चड्ढा चुपचाप मौके से भागते नज़र आते हैं।

लोगों ने चड्ढा से सवाल किए:

“राघव जी जब आपकी पार्टी लोकतंत्र की बात करती है तो आप इस तरह छिप कर क्यों जा रहे हैं? लोगों से बात करिए।”


चड्ढा इन सवालों का जवाब दिए बिना ही अपने ही पार्टी कार्यकर्ताओं से भागते देखे गए। इसके बाद मौके पर उपस्थित लोग और भड़क गए और धक्का-मुक्की शुरू हो गई। विवाद ने बड़ा रूप ले लिया और कई वीडियोज़ में लोग हाथापाई करते और लात-घूँसे चलाते भी दिखे।

कई वीडियोज़ में ऐसा भी दावा भी हो रहा है कि मौके पर राघव चड्ढा की भी पिटाई हुई, हालाँकि अब तक इस बात की कोई पुष्टि नहीं हो पाई है। सेंट्रल वक्फ काउंसिल के सदस्य रईस पठान ने भी इस विषय में कटाक्ष करते हुए एक ट्वीट किया और घटना की घोर निंदा भी की।


वीडियोज़ में लोग आम आदमी पार्टी के विरोध में नारेबाज़ी करते दिखे और मौके पर “राघव चड्ढा चोर है” जैसे नारे भी लगे।


बता दें कि यह कोई पहला अवसर नहीं है जब आम आदमी पार्टी पर इस प्रकार के गंभीर आरोप लगे हैं। इससे पहले दिल्ली विधानसभा चुनावों में भी पार्टी पर टिकट बेचने और अपराधियों को टिकट देने जैसे गंभीर आरोप लगते रहे हैं।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं: