सीरिया के सैन्य ठिकानों पर इजराइली एयर स्ट्राइक, 8 की मौत: राजधानी दमिश्क थी निशाने पर

09 जून, 2021 By: डू पॉलिटिक्स स्टाफ़
इज़राइल की ओर से इन हमलों को लेकर कोई पुष्टि नहीं की गई है (चित्र साभार: अरब न्यूज़ जापान)

सीरियाई मीडिया ने दावा किया है कि सीरिया के सैन्य ठिकानों पर मंगलवार (08 जून, 2021) रात इजराइली मिसाइलों द्वारा हमला किया गया। सीरिया का कहना है कि पिछले एक महीने में इजराइल का यह पहला हमला है।

‘टाइम्स ऑफ़ इज़राइल’ के अनुसार, सीरिया की राष्ट्रीय समाचार एजेंसी ‘सना’ ने कहा कि सीरियाई सेना ने कुछ इज़राइली मिसाइलों को मार गिराने का दावा किया है। ‘सना’ के अनुसार, सीरियाई राजधानी दमिश्क में विस्फोट के बाद इजराइली विमानों ने लेबनान के हवाई क्षेत्र से प्रवेश किया।

समाचार एजेंसी ने किसी के हताहत होने या संपत्ति के नुकसान से इनकार किया है। सीरिया ने दावा किया है कि दमिश्क से लगभग 50 किलोमीटर दूर हवाई हमलों ने दमिश्क के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के साथ-साथ डुमायर क्षेत्र में एक सीरियाई वायु सेना बटालियन को निशाना बनाया।

वहीं, ब्रिटेन स्थित सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा कि मारे गए लोगों में ‘राष्ट्रीय रक्षा’ बलों के सदस्य शामिल हैं। इस समूह ने दावा किया है कि मध्य और दक्षिणी सीरिया पर इजराइली हवाई हमले के बाद सीरियाई सरकारी बलों और उनके सहयोगी मिलिशिया के कम से कम 8 सदस्य मारे गए हैं।

ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि आधी रात इजराइली हमलों ने होम्स के ग्रामीण इलाकों में खिरबेट अल-तिन गाँव के पूर्व की चौकियों पर हमला किया।

SOHR प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने कहा, “कम से कम 7 सेना के जवान और 4 राष्ट्रीय रक्षा बल मिलिशिया मारे गए।” दावा किया जा रहा है कि हमलों में इस क्षेत्र में मौजूद आतंकवादी समूहों, जैसे- लेबनानी शिया आंदोलन हिज़्बुल्लाह से संबंधित एक गोला बारूद डिपो भी निशाना बनाया गया।

हवाई हमले होम्स प्रांत के दक्षिण में भी हुए, जबकि विस्फोट क्रमशः उत्तर और उत्तर पश्चिम में हामा और लताकिया प्रांतों में महसूस किए गए।

सीरिया की ओर से दावा किया गया कि इजराइली हमलों से होम्स में जान-माल का नुकसान हुआ है, जहाँ कथित तौर पर बचाव दल को प्रभावित जगहों पर भेजना पड़ा। हालाँकि, सीरिया द्वारा किए गए इन दावों पर इज़राइल की ओर से किसी प्रकार का कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है।

सीरिया का कहना है कि उनकी एयर डिफ़ेंस प्रणाली ने कुछ इजराइली मिसाइलों को मार गिराने में कामयाबी हासिल की, जिन्हें रात 11:30 बजे के बाद लेबनान की ओर से दागा गया था।

कयास लगाए जा रहे हैं कि इजराइल इस इलाके में सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद के प्रमुख सहयोगी माने जाने वाले ईरान को इस क्षेत्र में अपना सैन्य प्रभाव बनाने नहीं देना चाहता। इजराइल द्वारा किए जा रहे इन कथित हमलों के पीछे यही एक वजह बताई जा रही है।

गौरतलब है कि साल 2011 में पड़ोसी सीरिया में युद्ध की शुरुआत के बाद से, IDF ने सीरियाई क्षेत्र पर सैकड़ों हवाई हमले किए हैं, जिसमें ईरानी सेना और लेबनान के हिज़्बुल्लाह आंदोलन के सदस्यों को निशाना बनाया गया।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं:

ताज़ा समाचार