झारखंड: BJP सांसद ने पहलवान को मंच पर मारा थप्पड़, कारण भी बताया

18 दिसम्बर, 2021 By: DoPolitics स्टाफ़
झारखंड में भाजपा सांसद ने लगाया पहलवान को थप्पड़

झारखंड राज्य की राजधानी राँची के खेल गॉंव के शहीद गणपत राय इंडोर स्टेडियम में चल रही राष्ट्रीय कुश्ती चैंपियनशिप के समय भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने शुक्रवार (17 दिसंबर, 2021) को एक युवा पहलवान को मंच पर ही थप्पड़ मार दिया।

झारखंड के राँची से उत्तर प्रदेश के एक सांसद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर ख़ासा वायरल हो रहा है। यह वीडियो अंडर-15 राष्ट्रीय कुश्ती चैंपियनशिप का है, इसमें उत्तर प्रदेश के सांसद बृजभूषण शरण सिंह को एक युवा पहलवान को बार-बार थप्पड़ मारते देखा जा सकता है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिस पहलवान को थप्पड़ मारा गया, उसकी आयु 15 वर्ष से अधिक बताई जा रही है। इस पहलवान की आयु जानने पर, इसे प्रतियोगिता से निष्कासित कर दिया गया था क्योंकि यह प्रतियोगिता अंडर-15 की थी।

हालाँकि, इस घटना के एक दिन बाद, सिंह ने अपना आपा खोने की वजह बताते हुए कहा कि युवा पहलवान को अंडर -15 कुश्ती चैंपियनशिप में उम्र धोखाधड़ी करने का दोषी पाया गया था।

उन्होंने कहा, “

“वो लड़का मंच पर आया और उम्र में धोखाधड़ी का दोषी पाए जाने पर चैंपियनशिप में भाग लेने का आग्रह कर रहा था। मैंने उसे अनुमति नहीं दी और विनम्रता से उसे मंच से नीचे जाने के लिए कहा क्योंकि हमने पहले ही 5 और पहलवानों को अयोग्य घोषित कर दिया था, जो उम्र में धोखाधड़ी करने के दोषी पाए गए थे और वे सभी यूपी के थे। मैंने किसी भी खिलाड़ी को अनुमति नहीं दी थी जो अधिक उम्र का है, चाहे वह दिल्ली, हरियाणा या किसी भी राज्य का हो। अगर मैं राज्यों के आधार पर ऐसा करना शुरू कर दूँ तो मैं देश में कुश्ती का विकास नहीं कर सकता।”

तीन दिन पहले की इस घटना को लेकर इंडियन यूथ कॉन्ग्रेस के राष्ट्रीय प्रमुख श्रीनिवास ने इस घटना का 13 सेकंड का वीडियो ट्विटर पर साझा करते हुए भाजपा पर निशाना साधा है और लिखा है कि ये भाजपा के सांसद हैं।


समझाने पर भी मंच पर चढ़ आया पहलवान 

इस घटना के गवाह और झारखंड कुश्ती संघ के अध्यक्ष भोलानाथ सिंह ने मीडिया से बातचीत के दौरान वीडियो के सही होने की पुष्टि की है। उन्होंने यह भी कहा कि कुश्ती संघ के अध्यक्ष ने उस पहलवान को पहले समझाने की कोशिश की थी, जिसके बाद ही यह घटना हुई। 

उन्होंने आगे कहा: 

“उस वक्त अंडर- 15 की नेशनल चैंपियनशिप चल रही थी। उम्र अधिक होने के कारण उत्तर प्रदेश के इस पहलवान को डिस्क्वालिफाई कर दिया गया था। तब पहले तो उन्होंने नीचे ही लोगों से बहस की। उसके बाद वे मंच पर चले गए। उन्हें पहले समझाया भी गया था। फिर भी वे कुश्ती संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष जी से बहस करने लगे।”

इस घटना के बाद भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के बृजभूषण अध्यक्ष सिंह ने आपा खो दिया और युवक को पीटना शुरू कर दिया। बता दें कि 64 वर्षीय बृजभूषण शरण सिंह भाजपा के कैसरगंज से लोकसभा सांसद हैं। इसके अलावा उन्होंने गोंडा लोकसभा क्षेत्र का भी प्रतिनिधित्व किया है।

सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने अब तक इस मामले को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है और न ही पहलवान की कोई पहचान सामने आई है। 



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं: