फेक आधार बनाकर 'विक्की' ने नाबालिग से किया निकाह, भाई-बहन, अम्मी भी धर्मांतरण में शामिल

04 जुलाई, 2021 By: डू पॉलिटिक्स स्टाफ़
पीड़ित परिवार के घर आने-जाने वाले युवक ने अपना नाम कासिम क़ुरैशी की जगह विक्की यादव बताया था

उत्तर प्रदेश राज्य में एक और लव-जिहाद का मामला सामने आया है। इसमें कासिम क़ुरैशी नामक युवक ने अपना नाम विक्की यादव बताकर धोखे से एक नाबालिग से निकाह करके उसका पंथ परिवर्तन करा दिया।

देश में पिछले कुछ समय में भारी मात्रा में लव-जिहाद एवं ग्रूमिंग के मामले सामने आ रहे हैं। कश्मीर के श्रीनगर में 2 सिख महिलाओं के पंथ परिवर्तन ने देश भर में भारी तूल पकड़ा था। वहाँ एक भारी सिख आबादी द्वारा उत्तर प्रदेश एवं मध्य प्रदेश जैसे ‘लव जिहाद’ को लेकर कानून बनाने की माँग उठी थी। उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में सरकारों द्वारा इस तरह के अपराधों को रोकने के लिए संपूर्ण प्रयास जारी है, परंतु फिर भी आए दिन ऐसे मामले सामने आ रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के आगरा के हरीपर्वत क्षेत्र में इसी से जुड़ा एक मामला सामने आया जहाँ पीड़ित परिवार के घर आने-जाने वाले एक युवक ने अपना नाम कासिम क़ुरैशी की जगह विक्की यादव बता कर परिवार से नजदीकियाँ बनाएँ तथा नाबालिग किशोरी से दोस्ती कर ली। 

नकली कागज़ात बनाए, निकाह कर किया गर्भवती

पीड़ित परिवार ने बताया कि नाबालिग किशोरी लगभग 15 दिनों से लापता थी। जब 15 दिनों बाद वह घर लौटी तो पता लगा कि पीड़ित परिवार की ही फैक्ट्री में काम करने वाला युवक कासिम क़ुरैशी झूठा नाम बता कर युवती को भगा कर ले गया था।

उसने नाबालिग के नकली कागज़ात (आधार कार्ड) बनवाए जिसके बाद उससे निकाह किया। बताया जा रहा है कि नाबालिग किशोरी गर्भवती भी है। इस पूरे घटनाक्रम में कासिम की बहन भी शामिल थी, उसने भी पीड़ित परिवार को अपना नाम सोनम यादव बता कर विश्वास जताया था।

निकाह तथा पंथ परिवर्तन के साथ ही नाबालिग का ब्रेनवाश करने का भी प्रयास किया गया, जिसके कारण किशोरी अब युवक के साथ रहने पर ही अडिग है तथा घरवालों की बात सुनने को तैयार नहीं है। पीड़िता के नाबालिग होने के कारण मामला न्यायालय में ही सुलझाया जाएगा।

बदनामी के डर से सहमा हुआ है पीड़ित परिवार

पूरे प्रकरण के बाद कई दिनों तक पीड़ित परिवार ने भय और बदनामी के डर से मामले को लेकर कोई शिकायत नहीं की। जब घटना की जानकारी भाजपा कार्यकर्ताओं तक पहुँची तो क्षेत्र के भाजपा विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल हरीपर्वत थाने पहुँचे तथा पीड़िता के पिता को बुलाया। पीड़िता के पिता ने दोषी कासिम क़ुरैशी और उसके परिवार के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया।

पूरे मामले पर एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने कहा कि मामले में पोक्सो एक्ट तथा दुष्कर्म की धारा के तहत शिकायत दर्ज की गई है। धर्मांतरण अधिनियम की धारा 3 और 4 भी लगाई गई हैं। पूरे मामले पर पीड़िता की मेडिकल जाँच भी कराई जा रही है तथा पड़ताल जारी है।

चित्र साभार- दैनिक जागरण

पुलिस ने फिलहाल दोषी कासिम की घटना में लिप्त बहन समेत पिता रईसुद्दीन, माँ रुखसार और भाई शकील एवं कामिल को हिरासत में ले लिया है। मुख्य दोषी कासिम क़ुरैशी फिलहाल फरार है। कासिम और निकाह पढ़ने वाले मौलवी को पकड़ने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं:

ताज़ा समाचार