कभी नहीं सुना इसका नाम: सिद्धार्थ की अभद्र टिप्पणी पर भड़के साइना के पिता, कहा- माफी माँगनी होगी

11 जनवरी, 2022 By: DoPolitics स्टाफ़
सिद्धार्थ की बयान पर साइना के पिता हरवीर सिंह ने भी ऐतराज जताया है

बॉलीवुड के गालीबाज अभिनेता सिद्धार्थ द्वारा साइना नेहवाल पर की गई अभद्र टिप्पणी को लेकर अब उनके पिता ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। साइना के पिता हरवीर सिंह नेहवाल ने कहा है कि मैंने इस एक्टर का नाम पहले कभी नहीं सुना। साइना के पति ने भी अभद्र टिप्पणी पर रोष व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि सिद्धार्थ को माफी माँगनी पड़ेगी।

साइना नेहवाल पर एक्टर सिद्धार्थ का अभद्र कमेंट लगातार चर्चा में बना हुआ है। अब साइना के पिता ने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। साइना नेहवाल के पिता हरवीर सिंह नेहवाल ने कहा है कि सिद्धार्थ ने उनकी बेटी के बारे में जिन अल्फाजों का इस्तेमाल किया है, वह बेहद आपत्तिजनक और गलत है।

हरवीर सिंह ने कहा कि वह एक्टर की इस हरकत की निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि सिद्धार्थ को उनकी बेटी से माफी मांगनी पड़ेगी, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उसने जान-बूझकर साइना को अपमानित करने के लिए ऐसे शब्द चुने थे या अंजाने में उसने इतना भद्दा कमेंट किया।

पहले कभी नहीं सुना ‘एक्टर’ का नाम

हरवीर सिंह नेहवाल ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, “मुझे बहुत बुरा लगा जब सिद्धार्थ ने मेरी बेटी के लिए इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया। मेरी बेटी ने मेडल जीते हैं और भारत का नाम रौशन किया है। सिद्धार्थ ने देश के लिए क्या किया है? मेरा हमेशा से मानना रहा है कि भारतीय समाज शानदार है।”

उन्होंने कहा, “साइना को पत्रकारों और खेल जगत का समर्थन प्राप्त है, क्योंकि वे जानते हैं कि एक खिलाड़ी को कितना संघर्ष करना पड़ता है। माफी बुनियादी चीज है, जो सिद्धार्थ को माँगने की जरूरत है। मैं इस एक्टर को नहीं जानता, मैंने पहली बार उसका नाम सुना है।”

NCW ने डीजीपी सहित ट्विटर को खत लिख कार्रवाई करने को कहा, ट्विटर अकाउंट ब्लॉक करने की माँग

साइन के पिता ने NCW द्वारा मामले का संज्ञान लेने पर भी सन्तोष प्रकट किया। उन्होंने कहा कि मैं खुश हूँ कि राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने संज्ञान लिया है। बता दें कि महिला आयोग ने महाराष्ट्र के डीजीपी सहित ट्विटर को खत लिख मामले में कार्रवाई करने के लिए कहा है।

बता दें कि विवाद बढ़ने के बाद NCW की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक को इस मामले में एफआईआर दर्ज करने और जाँच करने के लिए लिखा है। इसके अलावा रेखा ने ‘ट्विटर इंडिया’ के स्थानीय शिकायत अधिकारी को पत्र लिखकर सिद्धार्थ के ट्विटर अकाउंट को तत्काल ब्लॉक करने की माँग की है।

ट्विटर को लिखी गयी चिट्ठी में राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट से कहा है कि वह एक्टर सिद्धार्थ के उस ट्वीट को ब्लॉक करे, जिसमें उसने बैडमिंटन खिलाड़ी रही साइना नेहवाल के खिलाफ टिप्पणी की है। राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ने साइना पर की गयी एक्टर सिद्धार्थ की टिप्पणी को ‘नारी विरोधी और अपमानजनक’ करार दिया है।

साइना ने भी दी प्रतिक्रिया, पति ने जताई नाराजगी

साइना ने भी सिद्धार्थ के कमेंट पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा है, “मुझे नहीं पता कि उसका क्या मतलब था। मैं अभिनेता के तौर पर उसे पसंद करती थी, लेकिन यह अच्छा नहीं था। वह बेहतर शब्दों से खुद को बयां कर सकता था। मुझे लगता है कि यह ट्विटर है जिस पर इस तरह के शब्दों और टिप्पणियों से आप हमेशा ध्यान आकर्षित करते हैं।”

साइना के पति पारुपल्ली कश्यप ने भी सिद्धार्थ के ट्वीट को अपमानजनक बताते हुए प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि यह सब हमारे लिए परेशान करने वाला है। कश्यप ने कहा अभिनेता से कहा, “अपनी राय रखिए लेकिन बेहतर शब्दों का चयन करिए। मुझे लगता है कि आपने सोचा था कि ऐसे बात कहना अच्छा था।”

क्या था मामला

दरअसल साइना नेहवाल ने पंजाब में पीएम मोदी की सुरक्षा चूक को लेकर एक ट्वीट किया था। उन्होंने घटना की निंदा करते हुए लिखा था कि कोई भी राष्ट्र अपने आप को सुरक्षित होने का दावा नहीं कर सकता यदि उसके अपने प्रधान मंत्री की सुरक्षा से समझौता किया जाता है।

साइना ने लिखा था कि मैं सबसे कड़े शब्दों में, अराजकतावादियों द्वारा पीएम मोदी पर कायरतापूर्ण हमले की निंदा करती हूँ। साइना के इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए दक्षिण भारतीय अभिनेता ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था। जिसके बाद उनकी सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हो रही है।

हालाँकि, विवाद और आलोचना होने पर अभिनेता सिद्धार्थ ने अपने ट्वीट पर सफाई देते हुए कहा कि उनके शब्दों का गलत अर्थ निकाला गया है। सिद्धार्थ ने कहा है कि उन्होंने अपने ट्वीट से किसी को अपमानित नहीं किया है। उन्होंने जो कुछ भी लिखा है, उसका गलत अर्थ निकाला गया है और यह उचित नहीं है।



सहयोग करें
वामपंथी मीडिया तगड़ी फ़ंडिंग के बल पर झूठी खबरें और नैरेटिव फैलाता रहता है। इस प्रपंच और सतत चल रहे प्रॉपगैंडा का जवाब उसी भाषा और शैली में देने के लिए हमें आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। आप निम्नलिखित लिंक्स के माध्यम से हमें समर्थन दे सकते हैं:

ताज़ा समाचार